Friday, July 22, 2011

मै चाहता हूँ...

मैं चाहता हूँ 
लोच आ जाए,
मेरी चाल में थोड़ी 
तुम 
कुछ सीधा और चलने लगो.

मैं चाहता हूँ 
बना रहे संकोच मेरा,
आ जाए 
तुममें थोड़ी लज्जा . 

No comments:

Post a Comment