Monday, July 18, 2011

अक्सर रोटी को चाँद सा पाया है .

चाँद दिखाई नहीं पड़ता  
भूख जब  बेतरह लगी 
दोस्त कहतें हैं 
चाँद सुन्दर हो जाता है 
जब रोटी सा लगने लगे,

जब भूख नहीं होती
अक्सर रोटी को चाँद सा पाया है .

No comments:

Post a Comment