Wednesday, October 14, 2009

is diwali

                                                         raushani :-2.

बहुत दिनों बाद / चंद रोज पहले
देखा मैंने जुगनुओ  की कतार
जुगनुओ को देख याद नहीं रहता विज्ञान
कतार सीधी होने की नसीहत
जुगनुओ के गुच्छ भी लगते है कतार.

जुगनुओ की रौशनी में देखा मैंने गाँव
गाँव में उसी दिन मैंने  चाही दिवाली
दिवाली तक रुक नहीं पाया गाँव.
 रौशनी की सीधी कतार
[रौशनी केवल सीधी चलती है
 मै केवल सीधा चलता हु ]
संग लाया हूँ मै
 इस दिवाली याद करूँगा गाँव
इस दिवाली रौशन करूँगा खुद को.

No comments:

Post a Comment